गुरुवार, अक्तूबर 20, 2011

अग़ज़ल - 27

                
काफिला  हो  न  हो  तुम्हें  चलना  होगा 
रौशनी के लिए मोम-सा पिघलना होगा ।

यह  जुबां  क्या  बयाँ  करेगी  हाले-दिल
इस  दर्द  को  खुद  जुबां  बनना  होगा ।

तुम हौंसला न हारो , एक दिन वक्त को
ख़ुद  तुम्हारे  सांचों  में  ढलना  होगा ।

बस  शर्त  यही  है , चेहरा  खिला  रहे
चमन  में  गुंचों  को  तो  खिलना  होगा ।

अँधेरा हो न जाए हावी , इसके लिए 
चिरागों  को  रात  भर  जलना  होगा ।

थकान का बहाना न बनाओ ' विर्क '
मंज़िल पाने के लिए बस चलना होगा 

            दिलबाग विर्क               
* * * * * 

10 टिप्‍पणियां:

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

तुम हौंसला न हारो , एक दिन वक्त को
खुद तुम्हारे सांचों में ढलना होगा ।

बहुत खूब ..सुन्दर सन्देश देती अच्छी रचना

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' ने कहा…

आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल शनिवार के चर्चा मंच पर भी की गई है!
यदि किसी रचनाधर्मी की पोस्ट या उसके लिंक की चर्चा कहीं पर की जा रही होती है, तो उस पत्रिका के व्यवस्थापक का यह कर्तव्य होता है कि वो उसको इस बारे में सूचित कर दे। आपको यह सूचना केवल इसी उद्देश्य से दी जा रही है! अधिक से अधिक लोग आपके ब्लॉग पर पहुँचेंगे तो चर्चा मंच का भी प्रयास सफल होगा।

संगीता पुरी ने कहा…

थकान का बहाना न बनाओ ' विर्क '
मंजिल पाने के लिए बस चलना होगा ।

बहुत खूब !!

Asha Lata Saxena ने कहा…

'अन्धेरा हो जाए न हाबी
दीपकों को रात भर जलना होगा '
दिल छूती पंक्तियाँ |

बहुत सुन्दर |
दीपावली के लिए अग्रिम बधाई |
आशा

kanu..... ने कहा…

तुम हौंसला न हारो , एक दिन वक्त को
खुद तुम्हारे सांचों में ढलना होगा ।

bahut sundar rachna.mere blog par aapka swagat hai

चंदन ने कहा…

चलना होगा !
बहुत अच्छी रचना!
प्रेरणादायक !

S.M.HABIB (Sanjay Mishra 'Habib') ने कहा…

मंजिल पाने के लिए बस चलना होगा ।
बहुत खूब
चलना ही होगा....
बहुत सुन्दर अशआर....
सादर बधाई...

संजय भास्‍कर ने कहा…

तुम हौंसला न हारो , एक दिन वक्त को
खुद तुम्हारे सांचों में ढलना होगा ।
क्या बात है विर्क जी...मंजिल पाने के लिए बस चलना होगा । ......बहुत सुन्दर...!

संजय भास्‍कर ने कहा…

सुन्दर प्रस्तुति के लिए बधाई स्वीकारें.
प्रकाश पर्व( दीपावली ) की आप तथा आप के परिजनों को मंगल कामनाएं.

Urmi ने कहा…

आपको एवं आपके परिवार के सभी सदस्य को दिवाली की हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनायें !
मेरे नए पोस्ट पर आपका स्वागत है-
http://seawave-babli.blogspot.com/
http://ek-jhalak-urmi-ki-kavitayen.blogspot.com/

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...