मंगलवार, नवंबर 13, 2012

जलें दीप से दीप


दीवाली त्यौहार पर, जलें दीप से दीप 
सब अन्धकार दूर हों, हो रौशनी समीप ।
हो रौशनी समीप, उमंग जगे हर घर में 
करें तमस का नाश, हो उजास विश्व भर में ।
कहे विर्क कविराय, भरे खुशियों की थाली 
फैले हर्षोल्लास , मनाएं जब दीवाली ।

**********

4 टिप्‍पणियां:

अरुण कुमार निगम (mitanigoth2.blogspot.com) ने कहा…

***********************************************
धन वैभव दें लक्ष्मी , सरस्वती दें ज्ञान ।
गणपति जी संकट हरें,मिले नेह सम्मान ।।
***********************************************
दीपावली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं
***********************************************
अरुण कुमार निगम एवं निगम परिवार
***********************************************

ई. प्रदीप कुमार साहनी ने कहा…

दिवाली पर सुंदर कुंडली | हार्दिक बधाइयाँ |

Rajendra Swarnkar : राजेन्द्र स्वर्णकार ने कहा…


कहे विर्क कविराय, भरे खुशियों की थाली
फैले हर्षोल्लास , मनाएं जब दीवाली



वाह वाऽह ! दिलबाग विर्क जी
अच्छी कुंडली है …

Rajendra Swarnkar : राजेन्द्र स्वर्णकार ने कहा…


विलंब से ही सही …
दीवाली की रामराम के साथ हमेशा हमेशा…
बनी रहे आपके जीवन में… त्यौंहारों की ख़ुशियां
ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ
♥~*~दीपावली की मंगलकामनाएं !~*~♥
ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ
सरस्वती आशीष दें , गणपति दें वरदान
लक्ष्मी बरसाएं कृपा, मिले स्नेह सम्मान

**♥**♥**♥**●राजेन्द्र स्वर्णकार●**♥**♥**♥**
ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...